जो भी साहित्यिक रुचि रखते हैं उनके लिए

 

🌹साहित्यिक पटल से जुड़ें,साहित्यिक लाभ उठाएं।
🌹अपनी कम रचें,पढ़े ज्यादा।
🌹साहित्य में उन्हें अपने पटल पर कुछ अच्छा हुआ दिखता है तो उसे श साहित्यकारों को बताएं।
🌹एक माँ जब दूसरे के बच्चे को दुलार सकती है तो हम साहित्यकार ऐसा क्यों नहीं कर सकते।
🌹अच्छे लिखे की दिल खोल कर प्रशंसा करें।
🌹बेबाक प्रतिक्रिया अपने सह मित्र,साहित्यकार साथी को दें।
🌹 विवादित साहित्यिक पोस्ट से दूरी रखें। दूसरों को भी सलाह दें।
🌹खुद को साहित्यिक गुरु नहीं साहित्यिक विद्यार्थी माने।
🌹 साहित्य में योगदान दें,साहित्य सेवा माँगता है उस साहित्य को सेवा धर्म से अपनाएं।
🌹दस साहित्य मनीषियों को सम्मानित स्वयं करें।
🌹सैंकड़ों साहित्यकारों को सम्मानित होते देखें उनको सुने।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *